facebook

HomeDevotional shayari

कट्टर हिन्दू शायरी | कट्टर हिन्दू शायरी हिन्दी में

जय श्री राम,

दोस्तों आज मैं आपके लिए कट्टर हिन्दू शायरी हिन्दी में लेकर आया हूँ। इससे पहले मैं भगवा राज पर भी शायरी लिख चुका हूँ जिसे आप सब ने बहुत ज्यादा ही पसंद किया है। मेरे बहुत सरे दोस्तों को हिंदुत्व पर लिखी गयी शायरीयां बहुत पसंद आती है और उनकी को ध्यान में रखकर मैं कट्टर हिन्दू स्टेटस शायरी पोस्ट कर रहा हूँ।

कट्टर हिन्दू शायरी

ये देश भगवाधारियों और भगवागिरी से चलेगा
जिसको पसंद नही वो जाकर आत्महत्या कर ले !
जय श्रीराम जय भगवा

वीरों की दहाड़ होगी हिन्दुओं की ललकार होगी
आ रहा है वक्त जब फिर हिन्दुओं की भरमार होगी !
जय श्री राम

गली-गली में ऐलान होना चाहिए हर मंदिर में राम होना चाहिए
इतना तो गुणगान होना चाहिए मिले किसी से तो जय श्रीराम होना चाहिए !
जय भगवा

हे भगवान करता हु आपसे गुज़ारिश की
तेरी भक्ति के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जन्म हिन्दु जैसे पावन धर्म मे
या फिर जिंदगी ना मिले !
जय श्री राम

कुरान में लिखा है
हिंदू जब अपने धर्म के प्रति कट्टर होने लगे
तो समझ लो इस्लाम खतरे में है !
जय श्री राम

मंदिर वही बनायेंगे घर घर भगवा छायेगा
राम राज फिर आयेगा एक ही नारा एक ही नाम जय श्री राम !
जय भगवा

दशहत बनाओ तो शेर जैसी
वरना
खाली डराना तो कुत्ते भी जानते है
कट्टर हिन्दु हो तो खूंखार होना चाहिये !
जय श्री राम

किसी की पहचान की जरूरत नही हमे
लोग हमारा चेहरा देखकर ही जय श्रीराम बोल देते है !
जय श्री राम

हिन्दू हो तो
कट्टर और खतरनाक बनो
डर कर जाओगे जल्द ही ख़त्म हो जाओगे !
जय श्री राम

मर्यादा पाँव में कब तक जंजीर डालेगी
माथे पर तिलक लगाकर चला करो
यही पहचान दुश्मन का कलेजा चीर डालेगी !
जय श्री राम

देख तज के पाप रावण
राम तेरे मन में हैं
राम मेरे मन में है
मन से रावण जो निकाले
राम उसके मन में है !
जय श्री राम

आज हिंदु दो हिस्सों में बटे है
एक कट्टर हिंदु
दुसरा स्वार्थी कायर
हम कट्टर लडेंगे स्वार्थी भागेंगे !
जय श्री राम
कट्टर हिन्दू

कट्टर हिन्दू शायरी | कट्टर हिन्दू स्टेटस

वीरों की दहाड़ होगी
हिन्दुओं की ललकार होगी
आ रहा है वक्त
जब फिर हिन्दुओं की भरमार होगी !
मंदिर बनाओ श्रीराम का

मैं जय श्री राम लिखूंगा
तुम मुझे कट्टर समझ लेना !
जय भगवा

अरे कब खुलेंगी तुम्हारी आँख हिंदुओं जय श्रीराम बोलने में डर कैसा
दहेज मांग सकते हो लेकिन अपने भगवान का घर नही !
जय श्री राम

किसी ने मुझसे पूछा कि हिंदू की जनसंख्या इतनी कम क्यों है
मैंने उतर देते हुए कहा यह प्रकृति का नियम है
यदि शेरों को बढा दिया जाए तो दुसरी जातियाँ खतरे मे पड़ जाएगी !
जय श्री राम
कट्टर हिन्दू

चीर कर बहा दो लहू
दुश्मन के सीने का
यही तो मजा है
हिन्दू होकर जीने का !
जय भगवा

जो हिन्दू शिव और राम का नहीं
वह किसी काम का नहीं !
जय श्री राम

जितनी पाकिस्तान की जनसंख्या हैँ उतने भारत मेँ कैदी हैँ
कैदियो को बोल दो सजा माफ
साला सुबह होते होते पाकिस्तान साफ !
जय श्री राम

तुम जितना मुझसे टकराओगे
मैं उतना कट्टर होता जाऊंगा !
जय श्री राम
कट्टर हिन्दू

मुसलमानों ने देखते देखते मुस्लिम राष्ट्र बना लिए
आप और हम अपना एक राष्ट्र नहीं बचा पा रहे
बात कड़वी है पर सच्ची है कट्टर बनो !
जय श्री राम

हाँ थोड़ा सा कट्टर हूँ
मै अपना धर्म निभाउँगा
जिंगल बेल मुबारक तुमको
मैं मंगल धुन गाऊँगा
कैसी क्रिसमस
मैं तो तुलसी पूजन दिवस मनाऊँगा !
जय श्री राम

हम ये नहीं कहते की सिर्फ
कट्टर हिन्दू हमसे जुडे
हम कहते हैं
सिर्फ हिन्दू हमसे जुडे
कट्टर तो हम उनको बना देंगे !
जय श्री राम
कट्टर हिन्दू

हिन्दू सिर्फ हिन्दू बनकर रहोगे तो
कोई भी बकरे की तरह काट देगा
कट्टर हिन्दू बनो जो काटने वाले के भी जबड़े फाड़ देगा !
जय श्री राम

अगर हिन्दू कट्टर बन रहा है तो
उसका जवाबदार सिर्फ मुस्लिम है
क्योंकि
अब हिन्दू सहने के मूड में नहीं है !
जय श्री राम

मैं अपने पुरखों का कर्जदार हूँ
जिन्होंने 800 साल मुग़लों से
200 साल अँग्रेजों से लोहा लेते हुए मुझे
कट्टर हिंदु बनाया !
जय श्री राम
कट्टर हिन्दू

ये जमाना राम-राज्य को मीटाना चाहता हें
लेकिन इस ज़माने मैं उतना दम नही
क्योंकि जमाना हमसे पैदा हुआ हें
हम ज़माने से नही !
जय श्री राम

हिन्दू होना भाग्य है
पर
कट्टर हिन्दू होना सौभाग्य है !
जय भगवा जय भवानी

मुझे तो मुल्लो पर बहुत पहले से शक है
कड़वा है पर सत्य है
आज का कट्टर मुसलमान
अतीत का कायर हिन्दू है
ओर आज का कायर हिन्दु
भविष्य का मुसलमान है !
जय श्री राम
कट्टर हिन्दू

बेटियो को चाँद जैसी मत बनाओ
ताकि कोई घूर सके
बेटियो को कट्टर हिन्दू शेरनी बनाओ
ताकि घूरने वाले की आँखे निकाल सके !
जय श्री राम

कट्टर हिन्दू शायरी इन hindi

धूल चटा दो गिद्धों को जो घर में घुसकर घात करें
और जीभ काट लो उन कुत्तों की
जो हिंदुत्व के खिलाफ बात करें !
कट्टर हिन्दू

ना हम
भगवा रंग छोड सकते हैं
न राष्ट्रप्रेम छोड सकते हैं
सिरफिरे हैं हम
जिद पे आ गए तो
ताजमहल पर भी
भगवा लहरा सकते है हम !
जय भगवा

वैसे तो मैं सिर्फ हिन्दू हूँ लेकिन
अगर हिन्दुत्व की बात करना कट्टरता है तो हाँ मैं गर्वित कट्टर हिन्दू हूँ !
जय श्री राम
कट्टर हिन्दू

गूंजता रहेगा सदियो तक एक ऐसा
अंजाम लिख देगे लहू के हर एक कतरे से
जय श्री राम लिख देंगे !
कट्टर हिन्दू

वर्षो के इतिहास और शासन के बूते हम ये
जरूर सिध्द कर सकते है की एक कट्टर
हिन्दू ही मानवता की सच्ची परिभाषा में
खरा उतर सकता है !
जय श्री राम

मुश्किल में है हिंदुस्तान अब
जल्लाद बनना होगा
तुझे भगत सिंह और मुझे
आज़ाद बनना ही होगा !
जय श्री राम

उम्मीद है दोस्तों आपको कट्टर हिन्दू शायरी पसंद आई होगी । अगर आपको हिंदुत्व पर और भी शायरियां चाहिए तो आप हमें सब्सक्राइब कर सकते है । हम रोज हिंदुत्व पर शायरी लिखते है और कट्टर हिन्दू पर भी शायरियां पहले भी बहुत सारी लिखी हुई है । आप कट्टर हिन्दू शायरी अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर कर सकते है।

Comments (2)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Tweet
+1
Share
Pin